गेहूं भाव में आएगी 400 रुपए की बड़ी तेज़ी, (गेहूं की तेज़ी मंदी रिपोर्ट) जानें क्या है समीकरण

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

किसान साथियों गेहूं भाव में इस साल लगातार तेज़ी दर्ज हो रही है। काफ़ी किसानों के द्वारा बदलते समीकरण देखकर गेहूं को स्टॉक कर लिया गया है। गेहूं का भाव क्या रहेगा। गेहूं में कितनी तेजी आएगी। क्या गेहूं के भाव बढ़ेंगे। गेहूं की तेज़ी मंदी रिपोर्ट 2024। क्या रहेगा गेहूं का भाव, इन सभी पहलुओं पर चर्चा करेंगे विस्तार से, क्या गेहूं में तेज़ी आएगी। उम्मीद है यह रिपोर्ट किसानों के लिए उपयोगी साबित होगी। Gehu Ka Bhav।

 

गेहूं भाव मार्केट तेज़ी मंदी रिपोर्ट : Gehu Ka Rate

इस वर्ष 2024 में गेहूं का एमएसपी रेट 2275 रुपए प्रति क्विंटल है। पिछले साल के मुकाबले किसानों को गेहूं की फ़सल से अधिक लाभ मिल रहा है। कई राज्यों में सरकार के द्वारा गेहूं के भाव पर बोनस ऑफर भी किए गए हैं। जिससे किसानों की आय में और अधिक लाभ हो रहा है। Gehu ke Bhav। गेहूं को लेकर प्रतिदिन मार्केट में नई खबरें आ रही है। गेहूं में और तेज़ी आने की उम्मीद बताई जा रही है।

 

गेहूं की खरीद कितनी हुई है

इस वर्ष गेहूं का उत्पादन काफी बंपर मात्रा में हुआ है। लेकिन उसके बावजूद भी गेहूं की खरीद काफी धीमी गति से चल रही है। सरकारी आंकड़े के मुबातिक गेहूं की खरीद 37.29 मिलियन मिट्रिक होनी। यह 17 मई के आंकड़े के मुताबिक 25 मिलियन मिट्रिक हो पाई है। मौजूदा गेहूं की सरकारी खरीद को देखा जाए तो यह 31% तक कम हुई है। सरकार के द्वारा गेहूं का उत्पादन का अनुमान यह लगाया गया है कि गेहूं का उत्पादन 112 मिलियन मिट्रिक टन होना है।

 

 

गेहूं के भाव में तेज़ी क्यों नहीं आ रही

हाल ही में (Gehu Ke Bhav) गेहूं को लेकर एक रिपोर्ट जारी की गई है। जिसमे गेहूं के भाव में तेजी क्यों नही आ रही। इसके दो मुख्य कारण बताए गए हैं। इसकी पहली वजह यह बताई गई है कि किसानों के द्वारा निजी व्यापारियों को गेहूं अधिक बेचा जा रहा है। (Gehu ka bhav) इसका कारण यह बताया गया है कि सरकारी केंद्रों के मुकाबले किसानों को भुगतान जल्दी हो रहा है।

 

दूसरा कारण यह बताया गया है कि बोहट अधिक संख्या में किसानों के द्वारा गेहूं को स्टॉक किया गया है। किसानों को यह उम्मीद है की गेहूं के भाव में तेज़ी आएगी। जिसके चलते किसानों ने गेहूं को घर में स्टॉक कर रखा है।

 

 

क्या गेहूं भाव में तेज़ी आएगी ( गेहूं की तेजी मंदी रिपोर्ट 2024)

जानकारों और एक्सपेर्ट से बातचीत के दौरान हमारी टीम mandinews.in हर वक्त किसानों के लिए देश की सभी मंडियों की कवरेज में लगी हुई है। ताकि किसानों को अधिक से अधिक लाभ मिल सके। विशेषज्ञों से बातचीत पर यह बताया गया है कि गेहूं की खरदी कम होना सरकार के लिए बड़ी चिंता का कारण बन सकती है। मार्च के महीने में गेहूं का भंडारण गिर चुका था। यह 7.5 मिलियन ही रह सका है। रिपोर्ट के दौरान यह उम्मीद बताई गई है कि गेहूं का भाव 400 से 500 रुपए प्रति क्विंटल तक आने वाले कुछ दिनों में तेज़ी के साथ कारोबार कर सकता है।

 

व्हाट्सऐप ग्रुप 👉

 क्लिक करके जुड़े

See also 👉 सरसों भाव में आज जारी रही तेजी , देखें आज मंडीयो में सरसों का भाव 20 मई 2024

 

पूछे गए प्रश्न ?

प्रश्न – गेहूं का भाव क्या है ?

उतर – गेहूं का सरकारी एमएसपी रेट 2275 रुपए प्रति क्विंटल है। देश की अलग अलग मंडियों में खुली खरीद (प्राइवेट भाव) अलग अलग है।

 

प्रश्न – क्या गेहूं भाव में आएगी तेज़ी ?

उतर – यह एक तरफा कहना मुश्किल है। कई मंडियों में तेज़ी बन रही है। यह मार्केट पर निर्भर करता है। उम्मीद तेज़ी की बताई जा रही है।

 

निष्कर्ष : किसना साथियों आज आपने जाना Gehu Ka Bhav। गेहूं की तेज़ी मंदी रिपोर्ट 2024 । हमारी वेबसाइट mandinews.in हर समय किसानों के लिए फ़सल तेज़ी मंदी रिपोर्ट। मंडी भाव। सरकारी योजना। फ़सल बीमा। व अन्य सभी जानकारियां सांझा करती है। हमारा लक्ष्य किसानों को सही निर्देश देकर सही दिशा में लेकर जाना है। इसी प्रकार से जानकारी के लिए हमारे whats app ग्रुप से जुड़े।

Gold

Gold Rate Today 05-07-2024: सोना चांदी की कीमत में बढोतरी, चांदी पहुंची 90 हजार पार, देखें 24 कैरेट गोल्ड का ताजा रेट

WhatsApp Channel Join Now Telegram Group Join Now WhatsApp Group Join Now आधिकारिक वेबसाइट इंडियन बुलियन एंड ज्वेलर्स एसोसिएशन के अनुसार आज सोने की कीमत ( Gold Rate Today) में…

Gold Rate Today

Gold Rate Today 03-07-2024: सोना चांदी की कीमत में हो गई महंगी, देखें 24 कैरेट गोल्ड का ताजा रेट

WhatsApp Channel Join Now Telegram Group Join Now WhatsApp Group Join Now आधिकारिक वेबसाइट इंडियन बुलियन एंड ज्वेलर्स एसोसिएशन के अनुसार आज सोने की कीमत ( Gold Rate Today) में…

Leave a Comment