रिवालसर झील में पिछले कई दिनों से मछलियाँ मर रही हैं

0
410

रिवालसर- रिवालसर झील के हालात दिन प्रतिदिन खराब होते जा रहे है। यहाँ पिछले कुछ दिनों से मछलियाँ मर रही है जिसकी वजह से बहुत दुर्गन्ध फैली हुई है जिसके कारण जल और वायु प्रदूषण बढ़ रहा है जो रिवालसर झील की सुन्दरता को खराब कर रहा है।

कमेटी और प्रशासन की और से चेतावनी बोर्ड लगाये हुए है कि मछलियों को आटा और अन्य खाद्य पदार्थ खिलाना मना है परन्तु इसका स्थानीय लोग और सैलानी उल्घन करते हैं और न ही प्रशासन और कमेटी को इसकी कोई चिंता है। केवल चेतावनी बोर्ड लगाने से कमेटी और प्रशासन का काम पूरा नहीं होता बल्कि नियमों को लागू करना होता है।

rewalsar-lake-issue-2

रिवालसर झील की जो दुर्गति हो रही है इसकी जिम्मेदारी तय की जानी चाहिए।

रिवालसर झील के प्रदूशित होने के निम्नलिखित कारण हैं :

1. सिवरेज का गंदा पानी झील के पानी में मिलना ।
2. लोगों द्वारा मछलियों को आटा और अन्य खाद्य पदार्थ खिलाना।
3. झील के आस -पास अँधा धुंध निर्माण।
4. झील और उसके आस-पास फैली गंदगी जो बारिश के पानी के साथ झील में मिल जाती है

rewalsar-lake

झील में गन्दे पानी का इकठा होना और अत्याधिक मछलियाँ होना भी मछलियों के मरने का कारण हो सकता है।
इसलिए स्थानीय जनता और घूमने आये लोगो से अनुरोध है की झील के आस -पास गन्दगी न फैलाएं ओर मछलियों को आटा और अन्य खाद्य पदार्थ ना खाने को दें।

अगर झील की तरफ ध्यान न दिया गया तो वो वो दिन दूर नहीं जब झील का अस्तित्व खत्म हो जायेगा। प्रशासन और स्थानीय जनता को झील का अस्तित्व बनाए रखने के लिए कदम उठाने चाहिए, अगर सही ढंग से झील का रख-रखाव किया जाये और सुनियोजित तरीके से झील को साफ किया जाये तो झील को बचाया जा सकता है।

Comments

comments