सोशल मीडिया में वायरल हुए औट घटना पर पढ़ें मण्डी पुलिस की प्रतिक्रिया

0
174
Mandi Police

मण्डी – पुलिस द्वारा अपने आधिकारिक फेसबुक पेज पर दिया ब्यान !

दिनाँक 02.02.2018 को सोशल मीडीया (Social media) facebook और whatsapp पर पुलिस थाना औट का एक Video डाला गया था जिसमें दर्शाया गया था कि पुलिस थाना औट के पुलिस कर्मी एक व्यक्ति को किस प्रकार पुलिस की गाड़ी में पकड़कर डाल रहे थे । इसी सम्बन्ध में पुलिस अधीक्षक मण्डी ने इन तथ्यों की जाँच के लिए आदेश पारित किया तथा जाँच अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मण्डी को सौंपी गई। शुरुआती जाँच में पाया गया कि दिनाँक 02.02.2018 को पुलिस थाना औट की टीम प्रभारी थाना औट Insp./SHO अजय कुमार के नेतृत्व में समय करीब 12 बजे दिन पनारसा में शेषनाग पैट्रोल पम्प NH पर यातायात चैकिंग के लिए खड़े थे तो चैकिंग के दौरान टकोली की तरफ से एक मोटरसाईकल सवार अकेला अपनी मोटरसाईकल नं HP34B-3954 पर पनारसा की तरफ बिना हेलमैट पहने और मोबाईल फोन सुनते हुए आ रहा था तो सामने पुलिस को देखकर उसने थोड़ी सी दुरी पर अपनी मोटरसाईकल खड़ी कर दी और खेतों की तरफ चला गया। इसी दौरान SHO ने अपने आरक्षी को उस खड़े मोटरसाईकल को अपने पास नज़दीक लाने के लिए कहा जैसे ही यह आरक्षी इस व्यकित के मोटरसाईकल को नज़दीक लाया और SHO इसका चालान करने लगा तो उसी समय यह मोटरसाईकल चालक मौका पर आ गया जिससे पुलिस ने इसका नाम पता पूछा और इसका चालान काटा क्योंकि यह व्यक्ति बिना हेलमेट, बिना ड्राईविंग लाईसैंस, बिना RC व मोटरसाईकल चलाते समय मोबाईल फोन सुनना/ मोटरसाईकल चला रहा था तथा पुलिस के साथ दुर्व्यवहार कर रहा था तथा इन्हीं करणों से SHO औट ने नियमानुसार इसकी मोटरसाईकल को 207 MV Act के अन्तर्गत कब्जा पुलिस में लिया । इसके बाद इस व्यक्ति ने अपना आपा खो दिया तथा आवेश में आकर मौका पर अपनी मोटरसाईकल को लेने की जिद्द करने लगा और पुलिस से धक्का-मुक्की व हाथापाई करने लगा। पुलिस ने इसे समझाने की कोशिश की लेकिन यह व्यक्ति न माना व आग-बबुला हो गया । इसी कारण SHO ने परिस्थितियों को मध्यनज़र रखते हुए किसी भी प्रकार के अन्य जुर्म को घटित होने से रोकने के लिए उस व्यक्ति को जुर्म 107/151 Cr.PC में गिरफ्तार करने का निर्णय लिया । इस नियम के अन्तर्गत गिरफ्तार करने के बाद जब इस व्यक्ति को पुलिस स्टाफ द्वारा पुलिस की गाड़ी में बैठाया जा रहा था तो यह व्यक्ति आवेश में आ गया और पुलिस की गाड़ी में न बैठने पर ऊतारु हो गया । पुलिस नें नियमानुसार धारा 46 Cr.PC कार्यवाही करते हुए गाड़ी में बैठाने का प्रयास किया तथा बाद में इस व्यक्ति का डाक्टरी निरीक्षण करवाने के लिए नगवाईं अस्पताल ले गए जहाँ पर भी यह व्यक्ति अपनी जिद्द पर अड़ा रहा तथा डाक्टरी निरीक्षण से इन्कार किया फिर भी डाक्टर साहब ने बाहर आकर इसका निरीक्षण किया । निरीक्षण के बाद जब इस व्यक्ति को पुन: पुलिस गाड़ी में बैठाने लगे तो इसने फिर से वही रवैया अपनाया और गाड़ी में न बैठने की जिद्द करने लगा । पुलिस ने मुशक्त करके इसे फिर गाड़ी में बैठाया और थाना पर ले आए । इसी दौरान एक मुख्य आरक्षी तथा एक HHG जवान को भी अन्दरुनी चोटें आई हैं और इन दोनों का भी डाक्टरी निरीक्षण करवाया गया है । HHG जवान का X-Ray निरीक्षण भी करवाया गया है जिसकी अभी रिपोर्ट आनी शेष है । बाद में उसी दिन इस व्यक्ति के परिवार के सदस्यों के आने पर उनसे बातचीत के बाद SHO औट ने इस व्यक्ति को तहसीलदार कार्यालय औट में पेश किया जहां से उसी दिन यह व्यक्ति जमानत पर रिहा हो गया और इसे परिवार के सदस्यों के साथ वापिस घर भेज दिया ।

सौजन्य – मण्डी पुलिस फेसबुक पेज।

Comments

comments

Leave a Reply