सीमा सुरक्षा बल के जवान तेज़ बहादुर यादव द्वारा फेसबुक पर विडियो के जरिये शेयर किया अपना दर्द

0
563

सीमा सुरक्षा बल के जवान तेज़ बहादुर यादव कल द्वारा अपनी फेसबुक प्रोफाइल पर ३ विडियो शेयर किये थे, जिनको देश भर के लाखों लोगों ने देखा और शेयर किया, सोशल मीडिया में वायरल होने पर लोगों की प्रतिक्रियाओं को देखते हुए गृह मंत्री ने टवीट्र कर के घटना की जाँच के आदेश दे दिए है।

वहीँ बीएसफ की तरह से जारी बयान में कहा गया है की इस जवान पर पहले भी कई बार अनुशासन हीनता आरोप लगते रहे हैं, जवान शराब पीने का आदी है, और एक बार अपने अधिकारियों से भी लड़ाई कर चुका है।

फेसबुक में डाले गए विडियो :-




बीएसफ के तमाम आरोपों को अगर सही भी मान लिया जाये तब भी इस बात को नाकारा नहीं जा सकता की जो जवान तेज़ बहादुर ने विडियो में दिखाया है वो गलत है। बीएसफ अधिकारियों का कहना है की किसी और जवान ने कभी ऐसी शिकायत नहीं की, यह बयान हास्यप्रद है, विडियो में साफ़ -साफ़ दिख घटिया स्तर का कहना बनता हुआ दिखाया गया है। दाल के नाम पर पानी ही जवानों को दिया जाता है।

इस बात में कोई शक नहीं की जो विडियो में दिखाया गया है वैसा नहीं होता है, कई बात अन्य अर्ध सैनिक बलों के जवानों के साथ हुई बात में मेरा अनुभव यही है की अधिकारी जवानों को बहुत प्रताड़ित करते है और इन बलों में काफ़ी भ्रष्टाचार होता है जिनमे अधिकारियों की संलिप्तता को नाकारा नहीं जा सकता। जिस तरह का खाना विडियो में दिखाया गया है शायद अधिकारियों के कुत्ते भी उस से बेहतर खाते होने, ये बिडम्बना ही है कि जो जवान देश की सीमाओं की रक्षा करते हैं उनके साथ इस तरह का व्यबहार होता है। बड़े दुःख की बात है हम लोग देश प्रेम की ढींगे तो हांफते है और वास्तव में कभी आवाज तक नहीं उठाते।

जो लोग सीमा पर दिन रात सेवाएं देते है उन के हालात देख के बहुत दुःख होता है, और जिस तरह से हमारा सिस्टम ख़राब हो गया है हम कुछ कर भी नहीं सकते। नेता लोग राजनीति करते है और बड़े अधिकारी जवानों की आवाज दबा देते है। इस केस में भी ऐसा ही होने वाला है, अंत में उसी जवान पर करवाई कर के जाँच पूरी हो जाएगी, और आगे कोई जवान फिर ऐसी आवाज उठाने की हिम्मत भी नहीं करेगा।

आशा की जा सकती है की गृह मंत्री इस बारे में जरूर पूरी जाँच करेगें और दोषियों को सजा मिलेगी, और जवानों को सही सुविधाएँ मिलेगीं।

Comments

comments